Success Khan Logo

क्रम व्यवस्था परीक्षण

इस अध्याय के अन्तर्गत पूछे जाने वाले प्रश्नों में कुछ व्यक्तियों या वस्तुओं या स्थानों की सापेक्षिक स्थिति अथवा श्रेणी दी जाती है, जो वैसे गुणों पर आधारित होती हैं, जिनकी तुलना की जा सकती है। इस प्रकार के प्रश्नों में प्राय: दो या दो से अधिक व्यक्तियों या वस्तुओं की चर्चा उनके गुणों के साथ की जाती है और दी गई जानकारी अव्यवस्थित या अप्रत्यक्ष होती है जिसे सार्थक क्रम में व्यवस्थित करना होता है। दिए गए क्रम को गुणों के आधार पर आरोही तथा अवरोही क्रम में सजाना होता है।

क्रम व्यवस्था पर आधारित प्रश्नों को हल करने के लिए कुछ महत्वपूर्ण सूत्र प्रयोग में लाए जाते हैं, जो निम्न हैं

(i) किसी कक्षा अथवा पंक्ति में कुल व्यक्तियों की संख्या = (किसी एक व्यक्ति का बाएँ या ऊपर से क्रम) + (उसी व्यक्ति का दाएँ या नीचे से क्रन्म) – 1

उदाहरण : किसी कक्षा में हिमांशु का ऊपर से 23वाँ तथा नीचे से 20वाँ स्थान है, तो कक्षा में कुल कितने छात्र हैं?
(a) 42  (b) 40  (c) 41  (d) 43
हल : (a) कक्षा में कुल छात्रों की संख्या = (23 + 20) -1 = 43-1 = 42



(ii) किसी व्यक्ति का पंक्ति में दाएँ अथवा नीचे से स्थान = (पंक्ति में कुल व्यक्तियों की संख्या) (उस व्यक्ति का पंक्ति में बाएँ या ऊपर से स्थान) + 1

उदाहरण : 50 विद्यार्थियों की कक्षा में मनीष का ऊपर से क्रमांक 20वाँ है। बताएँ कि नीचे से उसका क्रमांक क्या होगा ?
(a) 32वाँ   (b) 33वाँ   (C) 30वाँ   (d) ज्ञात नहीं कर सकते   (e) इनमें से कोई नहीं
हल : (e) मनीष का नीचे से क्रमांक = 50 – 20 + 1 = 31 वाँ

 

(iii) किसी व्यक्ति का पंक्ति में बाएँ अथवा ऊपर से स्थान = (पंक्ति में कुल व्यक्तियों की संख्या) – (उस व्यक्ति का पंक्ति में दायें या नीचे से स्थान) +1

उदाहरण : 30 लड़कियों की एक कतार में राधा का दाएँ छोर से 15वाँ स्थान है। बताएँ कि राधा का बाएँ छोर से क्या स्थान होगा?
(a) 17वाँ    (b) 16वाँ    (C) 15वाँ    (d) 14वाँ
हल : (b) राधा का बाएँ छोर से स्थान = 30 -15 + 1 = 16 वाँ







Explore