Success Khan Logo

भारत में सिंचाई General Knowledge

▬ भारत में सिंचाई परियोजनाओं को तीन भागों में विभाजित किया गया है। ये हैं___ 1. वृहत् सिंचाई परियोजना 2. मध्यम सिंचाई परियोजनाएँ एवं 3. लघु सिंचाई परियोजना



▬ वृहत् सिंचाई परियोजना के अन्तर्गत चे परियोजानाएँ सम्मिलित की जाती है, जिसके अन्तर्गत 10,000 हेक्टेयर से अधिक कृषि योग्य भूमि हो ।

▬ मध्यम सिंचाई परियोजना के अन्तर्गत पे परियोजनाएँ सम्मिलित की जाती है, जिसके अन्तर्गत 2,000 से 10,000 हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि हो।

▬ लघु सिंचाई परियोजना के अन्तर्गत वे परियोजना सम्मिलित की जाती है, जिसके अन्तर्गत 2,000 हेक्टेयर से कम कृषि योग्य भूमि हो।

सिंचाई के साधन

साधन —————    सिंचित भाग

कुआँ व नलकूप ——  55.9%

नहर ——————-  31.4%

तालाब  —————-    6.1%

अन्य स्रोत —————  6.6%

▬ वर्तमान समय में भारत की कुल सिंचित क्षेत्र का 37% बड़ी एवं मध्यम सिंचाई परियोजना के अधीन तथा 63% छोटी सिंचाई योजनाओं के अधीन है।

▬ विश्व का सर्वाधिक सिंचित क्षेत्र चीन (21%) में है।

▬ विश्व का दूसरा सर्वाधिक सिंचित क्षेत्र भारत (20.2%) में है।

▬ भारत में शुद्ध बोए गए क्षेत्र (1360 लाख हेक्टेयर) के लगभग 33% भाग पर सिंचाई की सुविधा उपलब्ध है।

▬ वर्तमान समय कुओं और नलकूप भारत में सिंचाई का प्रमुख साधन है।

▬ देश में सर्वाधिक नलकूप व पम्पसेट तमिलनाडू (18%) में पाए जाते हैं, महाराष्ट्र (15.6%) का दूसरा स्थान है। केवल नलकूपों की सर्वाधिक सघनता वाल राज्य उ०प्र०है।

▬ प्रायद्वीपीय भारत में सिंचाई का प्रमुख साधन तालाब है। तालाब द्वारा सर्वाधिक सिंचाई तमिलनाडू राज्य में की जाती है।







Explore