Success Khan Logo

वाक्य संशोधन एवं विन्यास

वाक्य शुद्धि सम्बन्धी परिक्षण का उद्देश्य व्याकरण की दृष्टि से शुद्ध हिंदी लिखने की योग्यता की जांच करना है । अभ्यर्थियों को वाक्यांशों में अशुद्धियों का पता लगाना होता है । वाक्यों को तीन खंडो में विभाजित किया जाता है और उसके निचे A , B , C लिखा रहता है । इसके अतिरिक्त एक चौथा भाग दिया जाता है , जिसमे ” कोई त्रुटि नहीं” लिखा रहता है । इस खंड के निचे D अंकित रहता है । उम्मीदवारों को अशुद्ध का पता लगाकर उत्तर -पत्रक में A , B , C अथवा D के आगे निशान लगाना होता है । इस प्रकार के प्रश्नो का उत्तर देते समय निम्नलिखित निर्देशों का पालन करना चाहिए —

(i) सर्वप्रथम वाक्य को ध्यान पूर्वक पढ़ना चाहिए
(ii) देखें कि वाक्य में क्रिया विषय के अनुरूप है या नहीं । यदि विषम बहुवचन में है तो क्रिया का रूप भी वैसा ही होना चाहिए ।
(iii) वाक्य के काल के क्रम को ठीक रखा गया है या नहीं ।
(iv) वाक्य में उप-पद का प्रयोग ठीक प्रकार से किया गया है या नहीं, ये देखना चाहिए
(v) यह देखें की , वाक्य में तुलना करते समय ठीक शब्द का प्रयोग किया गया है या नहीं
(vi) उचित सर्वनाम , विशेषण , क्रिया, क्रिया-विशेषण , पूर्वसर्ग आदि का प्रयोग ठीक प्रकार हुआ है या नहीं









Explore